You might also like :

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

बुधवार, 10 जनवरी 2018

बिच्छु डंक का होमियोपैथिक इलाज (Scorpion sting homeopathic treatment)

बिच्छू काटने पर कितना दर्द होता है इसको वहीं जानता है जिसको बिच्छु ने डंक मारा हो। ऐसे तो बहुत सारे घरेलू उपचार हैं परन्तु मैं यहाँ केवल होमियोपैथिक इलाज के बारे में ही चर्चा करूँगा। 
सर्वप्रथम आप  Silicea साइलीसिया २०० शक्ति की दवा १-१ बून्द १०-१० मिनट के अंतराल पर केवल तीन बार दें।  इससे बिच्छु का डंक बाहर आ जायेगा और  आधा कष्ट दूर हो जायेगा। इसके बाद आप निचे लिखे औषधि का सेवन करें। 

एपिस, द्रौणा, इचिनेसिया और लीडम पाल की मूल औषधि यानि Q शक्ति का मिश्रण तैयार करें और १०-१० बून्द पांच पांच मिनट पर रोगी को दें। ज्यादा कष्ट में ५ बून्द दवा 2CC डिसटिल वाटर के साथ मिला कर  काटे स्थान पर त्वचा में इंजेक्ट कर दें।  यह आजमाया और शर्तिया कष्ट को दूर करने में लाभकारी है। 

. धन्यवाद,


2 टिप्‍पणियां:

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।हमारी जानकारी-आपका विचार.आपकी मार्गदर्शन की आवश्यकता है, आपकी टिप्पणियाँ उत्साहवर्धन करती है....आभार !!!